GHAJAL ~BY ABDUL ANIS KHAN


गजल


तू बड़ी ज़ोरदार है जानाँ।
प्यार का इश्तिहार है जानाँ ।।

दिल की दुनिया के आसमाँ पर तू ।
चाँद जैसी शुमार है जानाँ ।।

मुझ पे तुझको यकीन हो ना हो ।
तुझ पे दिल जाँ निसार है जानाँ ।।

ऐसा महसूस है फ़रिश्तों से ।
तेरा कोई क़रार है जानाँ ।।

तू मिरी आरज़ू तमन्ना है ।
ज़िन्दगी की पुकार है जानाँ ।।

तेरा इस बे क़रार से दिल को ।
मुद्दतों इन्तज़ार है जानाँ ।।

हुस्न के हर मुरीद की पीछे ।
तेरे लम्बी क़तार है जानाँ ।।

___________________________________________

Want to try your hand at poetry? Email me at poeticiapoems@gmail.com

Featured image credits to u_gisunp5lyh on Pixabay

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
2
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x